बुधवार, 31 जनवरी 2018

भारत के प्रमुख साहित्‍य पुरस्‍कार - India's Leading Literature Awards


दोस्‍तो आज हम अपने इस पोस्‍ट के जरिए आपको भारत वर्ष में प्रति वर्ष दिये जाने वाले साहित्‍य एवं संस्‍क्रति के क्षेत्र में प्रतिवर्ष पुरस्‍कार भारत सरकार द्वारा वितरण किये जाते है उनके बारे में बतायेंगे उन सभी पुरस्‍कारों से सम्‍बन्धित कुछ महत्‍वपूर्ण तथ्‍य निम्‍नलिखित है जिनके बारे मेें जानकर आप अपने सामान्‍य ज्ञान को और भी बढा सकते है तो दोस्‍तो आइये जानते है भारत के प्रमुख साहित्‍य पुरस्‍कार (India's Leading Literature Awards) के बारे मेें -

India's Leading Literature Awards

भारत के प्रमुख साहित्‍य पुरस्‍कार - India's Leading Literature Awards

अकादमी पुरस्‍कार (Academy Awards)

साहित्य अकादमी पुरस्कार, सन् 1954 से प्रत्येक वर्ष भारतीय भाषाओं की श्रेष्ठ कृतियों को दिया जाता है, जिसमें एक ताम्रपत्र के साथ नक़द राशि दी जाती है। नक़द राशि इस समय एक लाख रुपए हैं। साहित्‍य आकादमी पुरस्‍कार, ललित कला अकादमी पुरस्‍कार, संगीत नाटक अकादमी पुरस्‍कार को प्रतिवर्ष प्रदान किए जाते है यह पुरस्‍कार साहित्‍य, कला एवं संगीत के क्षेत्र में उत्‍क्रष्‍ट योगदान के लिए दिया जाता है

इकबाल सम्‍मान (Iqbal Samman)

यह सम्‍मान मध्‍य प्रदेश उर्दू साहित्‍य के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान के लिए दिया जाता है इस सम्‍मान को मध्यप्रदेश शासन ने वर्ष 1986-87 में, उर्दू साहित्य में रचनात्मक लेखन के लिए स्थापित किया है। इकबाल सम्‍मान पुरस्कार उर्दू के सुप्रसिद्ध कवि अल्लामा इकबाल के नाम पर स्थापित किया गया है इकबाल सम्‍मान को प्रति वर्ष भारत के सर्वश्रेष्‍ठ उर्दू साहित्‍य के कवि को दिया जाता है जो कि साहित्‍य के क्षेत्र मेें अपना योगदान सर्वश्रेेेेष्‍ठ देता है

कबीर सम्‍मान (Kabir Honors)

राष्ट्रीय कबीर सम्मान मध्य प्रदेश शासन द्वारा भारतीय कविता के सबसे बड़े शासकीय सम्मान के रूप में दिया जाता है। इसके अंतर्गत 3 लाख रुपये की राशि पुरस्कार में दी जाता है यह सम्‍मान संस्कृति विभाग ने साहित्य और सृजनात्मक कलाओं में उत्कृष्टता तथा श्रेष्ठ उपलब्धि को सम्मानित करने तथा साहित्य और कलाओं के प्रति व्‍यक्ति को जागरूक करने के दिया जाता है कबीर सम्‍मान मध्‍यप्रदेश के साथ भारतीय स्‍तर भी वितरित किये जाते है जिसमें पुरस्‍कार प्राप्‍त कर्ता को भारत सरकार द्वारा  3 लाख रुपये की राशि पुरस्कार के रूप में दी जाती है

ज्ञानपीठ पुरस्‍कार (Jnanpith Awards)

ज्ञानपीठ पुरस्‍कार साहित्‍य के क्षेत्र में भारत का सबसे श्रेष्‍ठ पुरस्‍कार है यह पुरस्‍कार भारतीय ज्ञानपीठ संस्‍था द्वारा आयोजित किेया है यह संस्‍था वर्ष 1949 में शान्ति प्रसाद जैन द्वारा स्‍थापित किया गया इस पुरस्कार में ग्यारह लाख रुपये की धनराशि, प्रशस्तिपत्र और वाग्देवी की कांस्य प्रतिमा दी जाती है। 1965 में 1 लाख रुपये की पुरस्कार राशि से प्रारंभ हुआ था जिसे 2005 में 7 लाख रुपए कर दिया गया जो वर्तमान में ग्यारह लाख रुपये हो चुका है। इस पुरस्कार में ग्यारह लाख रुपये की धनराशि, प्रशस्तिपत्र और वाग्देवी भारत के उस सर्वश्रेष्‍ठ साहित्‍य कवि को दी जाती है जिसके द्वारा साहित्‍य के क्षेत्र मेें सर्वश्रेेेेष्‍ठ योगदान देता है

Tag - भारत के प्रमुख साहित्‍य पुरस्‍कार - India's Leading Literature Awards, List of Famous Indian Literature Awards, Indian literary awards, List of literary awards, Literature Awards in India, sahitya akademi award, list of kabir awards, list of iqbal awards, list of academy awards, India's Leading Literature Awards in hindi

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank You for Comment