गुरुवार, 22 मार्च 2018

विश्व जल दिवस के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी - Important Information About World Water Day


दोस्‍तो आज हम अपने इस पोस्‍ट मेंं विश्‍व जल दिवस (World Water Day) केे बारे में बात करेंगे क्‍योंकि आज भारत अलावा विश्व के समस्‍त देशों के सामने पीने के पानी की समस्या उत्पन्न हो गई है धरती पर तीन चौथाई पानी होने के बाद भी पीने योग्य पानी एक सीमित मात्रा में ही उपलब्ध है तब भी मनुष्‍य पानी को बर्वाद किये जा रहा हैै तो आइये दोस्‍तो जानते हैै विश्व जल दिवस के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी (Important Information About World Water Day) -

Important Information About World Water Day in Hindi

विश्व जल दिवस के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी - Important Information About World Water Day in Hindi

विश्‍व जल दिवस (World Water Day) को पूरे विश्व में दिनांक 22 मार्च को मनाया जाता है। विश्‍व जल दिवस (World Water Day) को पहली बार वर्ष 1992 में ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में “पर्यावरण और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन” की अनुसूची 21 में आधिकारिक रुप से जोड़ा गया था और पूरे दिन के लिये अपने नल से बहने वाली एक-एक बूॅद के गलत उपयोग को रोकने के लिये वर्ष 1993 से इस उत्सव को मनाना शुरु किया नीले रंग की जल की बूँद की आकृति विश्व जल दिवस उत्सव का मुख्य चिन्ह है


प्रमुख तथ्‍य (Key Facts) -

  1. दुनिया भर में प्रत्येक वर्ष 1,500 घन गंदे जल का निर्माण होता है भले ही गंदगी तथा गंदे जल कोऊर्जा तथा सिंचाई के लिए उपयोग में लाया जा सकता हैं
  2. हमारे पृथ्वी ग्रह का 70% से अधिक हिस्सा जल से भरा है जिस पर एक अरब 40 घन किलो लीटर पानी है।
  3. धरती पर लगभग 75.2 फीसदी भाग ध्रुवीय क्षेत्रों में तथा 22.6 फीसदी भूमि जल के रूप में है।
  4. धरती पर लगभग 97.5 प्रतिशत पानी समुद्र में है जो खारा है शेष 2.7% मीठा जल है।
  5. धरती पर लगभग 1.5 प्रतिशत पानी बर्फ के रूप में है
  6. धरती पर लगभग केवल 1 प्रतिशत ताजा पानी नदी, तालाब, झरनों और झीलों में है जो पीने लायक है
  7. इस 1 प्रतिशत पानी का 60 वां हिस्सा खेती और उद्योग कारखानों में खपत होता है बाकी 40 वां हिस्सा पीने, भोजन, नहाने और साफ-सफाई में खर्च होता है
  8. प्रत्येक व्यक्ति को कहीं भी प्रतिदिन 30 से 50 लीटर स्वच्छ तथा सुरक्षित जल की आवश्यकता होती है
  9. जल जनित बीमारियों के कारण प्रतिवर्ष 22 लाख मौतें विश्व में होती हैं
  10. विश्व में प्रति 10 व्यक्तियों में से 2 लोगों को साफ पानी नहीं मिल पाता है

विश्व जल दिवस का थीम (World Water Day Theme)

  • वर्ष 1993 का थीम था “शहर के लिये जल”
  • वर्ष 1994 का थीम था “हमारे जल संसाधनों का ध्यान रखना हर एक का कार्य है”
  • वर्ष 1995 का थीम था “महिला और जल”
  • वर्ष 1996 का थीम था “प्यासे शहर के लिये पानी”
  • वर्ष 1997 का थीम था “विश्व का जल: क्या पर्याप्त है”
  • वर्ष 1998 का थीम था “भूमी जल- अदृश्य संसाधन”
  • वर्ष 1999 का थीम था “हर कोई प्रवाह की ओर जी रहा है”
  • वर्ष 2000 का थीम था “21वीं सदी के लिये पानी”
  • वर्ष 2001 का थीम था “स्वास्थ के लिये जल”
  • वर्ष 2002 का थीम था “विकास के लिये जल”
  • वर्ष 2003 का थीम था “भविष्य के लिये जल”
  • वर्ष 2004 का थीम था “जल और आपदा”
  • वर्ष 2005 का थीम था “2005-2015 जीवन के लिये पानी”
  • वर्ष 2006 का थीम था “जल और संस्कृति”
  • वर्ष 2007 का थीम था “जल दुर्लभता के साथ मुंडेर”
  • वर्ष 2008 का थीम था “स्वच्छता”
  • वर्ष 2009 का थीम था “जल के पार”
  • वर्ष 2010 का थीम था “स्वस्थ विश्व के लिये स्वच्छ जल”
  • वर्ष 2011 का थीम था “शहर के लिये जल: शहरी चुनौती के लिये प्रतिक्रिया”
  • वर्ष 2012 का थीम था “जल और खाद्य सुरक्षा”
  • वर्ष 2013 का थीम था “जल सहयोग”
  • वर्ष 2014 का थीम था “जल और ऊर्जा”
  • वर्ष 2015 का थीम था “जल और दीर्घकालिक विकास”
  • वर्ष 2016 का थीम था "जल और नौकरियाँ"
  • वर्ष 2017 का थीम था "अपशिष्ट जल"
  • वर्ष 2018 का थीम होगा "जल के लिए प्रकृति के आधार पर समाधान"
Tag - World Water Day 22 March, World Water Day 2018, importance of world water day, world water day speech, why do we celebrate world water day, Important information about World Water Day, world water day in hindi, world water day in pdf

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank You for Comment