रविवार, 22 जुलाई 2018

जानें गोपाल दास नीरज की जीवनी के बारें में - Know About Biography of Gopal Das Neeraj in Hindi

नमस्‍कार दोस्‍तो आज हम अपने इस पोस्‍ट में पदम भूषण पुरस्‍कार से सम्‍मानित मशहूर कवि एवं गीतकार श्री गोपाल दास नीरज के जीवन के बारें में बात करेंगे जोकि लम्‍बे समय से बीमार होने के कारण एम्‍स में भर्ती थे गोपाल दास नीरज सदाबहार नगमों के रचयिता, तथा ‘कलम के जादूगर’ कहे जाने वाले हिन्दी साहित्यकार, शिक्षक, कवि एवं फ़िल्मों के गीतों के लेखक थे तो दोस्‍तो जानें कौन थे गोपाल दास – Know About Gopal Das Neeraj in Hindi

Know About Biography of Gopal Das Neeraj in Hindi

जानें गोपाल दास नीरज की जीवनी के बारें में - Know About Biography of Gopal Das Neeraj in Hindi



  1. गोपालदास सक्‍सेना "नीरज" का जन्‍म इटावा जिले के ब्‍लॉक महेवा के निकट पुरावली नामक गॉव में एक कायस्थ-परिवार में हुआ था
  2. गोपालदास जी के पिता का नाम बाबू ब्रजकिशोर सक्सेना था जिनका कि इनकी 6 वर्ष की आयु में ही निधन हो गया था 
  3. गोपालदास जी ने वर्ष 1942 में एटा से हाई स्कूल परीक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करने के बाद कचहरी में कुछ समय टाइपिस्‍ट का काम किया इसके बाद सिनेमाघर में नौकरी की 
  4. गोपालदास जी ने नौकरी के साथ-साथ प्राइवेट वर्ष 1949 में इण्‍टरमीडिएट, वर्ष 1951 में बी0ए0 तथा वर्ष 1953 में हिंदी से एम0ए0 किया था
  5. गोपाल जी ने मेरठ कॉलेज वर्ष 1955 में हिन्‍दी प्रवक्‍ता पद पर कार्यरत रहे इसके बाद अलीगढ के धर्मसमाज कॉलेज में हिन्‍दी के अध्‍यापक रहे
  6. गोपाल दास जी का विवाह होने केे पश्‍चात इन्‍होने वर्ष 1967 के आम चुनाव में कानपुर लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतरे थे
  7. गोपाल जी को कवि सम्‍मेलनों में लोकप्रिय होने के बाद इन्‍हें बम्‍बई के फिल्‍म जगत में गीत लिखने का सुनहरा मौका मिला जिससे ये काफी लोकप्रिय हो गये
  8. जिसके फलस्‍वरूप इन्‍हे पहली ही फिल्‍म में लिखे कुछ गीतों से बहुत लोकप्रिय हुए जिसके कारण इनका फिल्‍म जगत का सफर कई वर्षो तक जारी रहा
  9. इन्‍हे अपने जीवनकाल में कई सम्‍मानों से सम्‍मानित किया गया बहुत सारी फिल्‍मों में गाने लिखने के बाद इन्‍होने बम्‍बई नगरी से बापस आकर अलीगढ में वापस आ गये
  10. गोपाल दास नीरज का लम्‍बी बिमारी केे बाद 19 जुलाई वर्ष 2018 को लगभग 93 साल की उम्र में दिल्‍ली एम्‍स में नि धन होगया

पुस्‍कार एवं सम्‍मान (Awards and Honors) :-
  • विश्‍व उर्दू परि षद पुरस्‍कार
  • पधम श्री सम्‍मान (दो बार वर्ष 1991 तथा वर्ष 2007)
  • यश भारती सम्‍मान
  • फिल्‍म फेयर पुरस्‍कार (तीन बार वर्ष 1970, 1971 तथा 1972)
Tag - Biography of Gopal Das Neeraj in Hindi, Biography of Gopal Das Neeraj in pdf, Gopaldas Neeraj Biography in Hindi, Gopal Das Neeraj in Hindi, Gopal Das Neeraj in pdf

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank You for Comment